प्यार मोहब्बत सब साइड में, केवल ओलंपिक माइंड में : सरदार सिंह

एचआईएल देश की हॉकी की बेंच स्ट्रेंथ को मजबूत कर रहा है। आनेवाले समय में टीम में कई खिलाड़ियों को जगह बानाने में मुश्किल होने जा रही है। लेकिन हमारा सारा फोकस अभी इस साल होनेवाले रियो ओलंपिक पर है। हम विदेशी खिलाड़ियों के साथ खेल रहे हैं, इसका लाभ वहां उठाएंगे। भारत को विदेशी कोच के साथ देसी कोच की भी जरूरत है। इन बातों को साझा किया है भारतीय हॉकी टीम के कप्तान सरदार सिंह ने। रांची के मोरहाबादी स्ट्रोटर्फ स्टेडियम में अपनी बात सरदार ने खुलकर रखा। साथ थे साथी प्रवीण मिश्र। पेश है अंश...



ऐसा क्यों है कि विदेशी खिलाड़ी अधिक गोल कर रहे हैं?
ऐसा नहीं है। यह टीम गेम है। टीम जीत रही है। किसी एक खिलाड़ी का योगदान नहीं है। सभी अपने हिसाब से स्ट्रैटजी बनाकर मैच में उतर रही है।

ओलंपिक के लिए क्या तैयारी है, हॉकी इंडिया से क्या चाहिए?
अभी हम रांची, भुवनेश्वर में खचाखच भरे स्टेडियम में मैच खेल रहे हैं। रियो में हमें ऐसा ही स्टेमियम मिलने जा रहा है। इस शोर, दवाब में खेलने की आदत डाल रहे हैं। हॉकी इंडिया बहुत कुछ दे रहा है। बंगलुरु में कैंप भी लगने जा रहा है। वहां जो टर्फ मिलने जा रहा है वह ब्राजील की तरह ही है। पांच महीने का समय है। इस बीच अजलान शाह कप और चैंपियंस ट्रैफिक भी होना है।

बेंच स्ट्रेंथ कितना मजबूत हुआ  है एचआईएल से?
बहुत फायदा मिला है। कई खिलाड़ी मिले हैं। यंगस्टर के लिए इंडियन नेशनल टीम में जगह बनाना बहुत मुश्किल होने जा रहा है अब।

रांची रेज तो देसी कोच के दम पर जीत रही है, फिर विदेशी की मांग क्यों?
मैं यह बात पहले भी कह चुका हूं कि देसी के साथ विदेशी कोच की भी जरूरत है। रांची रेज के कोच हरेंद्र सिंह को केवल वर्ल्ड हॉकी की समझ है। हाल में हॉकी इंडिया ने कुछ सन्यास ले चुके खिलाड़ियों जैसे तुषार खांडेकर को ट्रेनिंग के लिए बुलाया है। इसका भी फायदा मिलेगा।

अगला सरदार सिंह किसे मानते हैं?
यह तो मुझे नहीं पता। लेकिन इतने दिनों तक कैप्टन इसिलिए रह पाया कि टीम के खिलाड़ी बड़े ईमानदार हैं। वह मैदान पर जितने प्रोफेशनल हैं, बाहर उतने ही पारिवारिक हैं। हर सुख दुख में साथ।


मंगेतर अशपाल से हॉकी पर कितनी बात होती है? 
(हंसते हुए) अभी प्यार मोहब्बत सब साइड कर रखा है। सच्ची बता रहा हूं दिमाग में केवल ओलंपिक घूम रहा है। बस तैयारी और स्ट्रैटजी पर फोकस हूं।

फेवरेट क्रिकेटर कौन हैं? 
हरभजन सिंह और युवराज सिंह। सचिन पाजी तो लिस्ट इस लिस्ट से भी ऊपर हैं।

खुद को रिफ्रेश होने के लिए क्या करते हैं? 
गाने सुनता हूं। लॉंग ड्राइव पर जाना पसंद करता हूं। हाल ही में इसके लिए रेंज रोवर बाइक खरीदी है।
Please follow and like us:

Comment via Facebook

comments